PISA - Programme for International Student Assessment

PISA - Programme for International Student Assessment
PISA - Programme for International Student Assessment
PISA कार्यक्रम क्या है?
-यह कार्यक्रम15 वर्ष की आयु वाले बच्चों के पढ़ने, गणित और विज्ञान विषयों के प्रति उनकी समझ का स्तर जाँचता है
- इसकी जाँच परीक्षा प्रति 3 वर्ष पर आयोजित होती है
- इससे वैश्विक स्तर पर चल रही शिक्षा प्रणाली का आकलन किया जाता है
- यह कार्यक्रम अपेक्षा करता है कि जाँच परीक्षा में बैठने वाले student ने कम-से-कम 6 वर्ष की formal schooling प्राप्त की हो
- Students की स्मरण क्षमता और पाठ्यक्रम आधारित समझ की जगह real life में उसकी समझ का आकलन किया जाता है
- इस कार्यक्रम का संचालन OECD करता है
OECD (Organization for Economic Cooperation and Development)

PISA चर्चा में क्यों?

-12 वर्षों बाद एक बार फिर PISA कार्यक्रम में भारत शामिल होगा
- 2009 में खराब प्रदर्शन के बाद भागीदारी छोड़ी थी
- 2021 में आयोजित होने वाले कार्यक्रम में फिर से शामिल होगा
- केंद्रीय मानव संसाधन मंत्रालय ने इस कार्यक्रम के बहिष्कार को अब वापस लेने का फैसला लिया है

PISA में भारत की स्थिति -

- 2009 में 74 देशों की सूची में मिला 72वाँ स्थान था
- भारत ने 'out of context' जाकर प्रश्न पूछने का आरोप लगाया था
- 2021 में चंडीगढ़ के सभी schools में इसकी जाँच परीक्षा आयोजित करने का भारत विचार कर रहा है
- इसके लिए सरकार OECD से बात करेगी
- भारत जाँच परीक्षा में भारतीय सामाजिक-सांस्कृतिक सन्दर्भो को वरीयता देने की गुजारिश करेगा
- जाँच परीक्षा में शामिल होकर भारत पारंपरिक रटंत शिक्षा पद्धति से कहीं आगे निकलने का दे संदेश सकेगा
Previous
Next Post »