world biggest plastic waste charkha

world biggest plastic waste charkha ;दुनिया के सबसे बड़े प्लास्टिक वेस्ट चरखे का उद्घाटन
- महात्मा गांधी की 150वीं जयंती की पूर्व संध्या पर नोएडा में प्लास्टिक कचरे से तैयार दुनिया
के सबसे बड़े चरखे का लोकार्पण किया गया है।
- यह चरखा गांधीजी के सपने स्वदेशी का प्रतीक है।
- केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी, गौतम बुद्ध नगर के सांसद महेश शर्मा, नोएडा के विधायक पंकज
शर्मा और नोएडा प्राधिकरण की सीईओ रितु माहेश्वरी ने 1650 किलोग्राम वजनी चरखे का
लोकार्पण किया है।
- महामाया फ्लाईओवर के पास सेक्टर-94 में चरखे को लगाया गया है।

चरखे का आकार 

- इस चरखे का आकार, 14 फुट गुणा 20 फुट गुणा 8 फुट है। चरखा बनाने में करीब 1,250 किलोग्राम प्लास्टिक का इस्तेमाल किया गया है।
- नोएडा में जब्त की गई 1250 किलोग्राम पॉलीथिन को गाजियाबाद के कलाकार सफराज अली व साक्षी झा को सौंपा गया था, जिन्होंने  20 दिन में एकरैलिक के जरिए चरखा तैयार किया है।
- इसमें प्लास्टिक के चम्मच, कोल्ड ड्रिंक पीने की स्ट्रा का प्रयोग किया गया है।

 चरखे की खासियत 

- इस चरखे की खासियत यह है कि यह पूरी तरह से मूव करता है। चरखे को घुमाने पर सूत कातने तक की हर गतिविधि इसमें होती है।
- यह चरखा न केवल निर्माण और सौंदर्यीकरण का प्रतिनिधि है, बल्कि प्लास्टिक-मुक्त अभियान के प्रति हमारी प्रतिबद्धता का भी प्रतिनिधित्व करता है।
- नोएडा प्राधिकरण की सीईओ रितु माहेश्वरी ने बताया कि 'इंडिया बुक ऑफ रिकार्ड्स' ने चरखे को देश में अपशिष्ट प्लास्टिक से बने सबसे बड़े चरखे के तौर पर चिन्हित किया है।

Previous
Next Post »