GDP Full Form, What is the Full form of GDP?

GDP Full Form
GDP Full Form

Full form of GDP

  • GDP Full Form in english- Gross Domestic Product 
  • GDP Full Form in हिंदी - सकल घरेलू उत्पाद
  • GDP देश की आर्थिक तरक्की को मापने का सबसे महत्वपूर्ण पैमाना है

 what is GDP?

  • हर रोज ख़बरों में एक शब्द हमेशा चर्चा में होता है और वो है - जीडीपी
  • GDP किसी भी देश की आर्थिक तरक्की को मापने का सबसे महत्वपूर्ण पैमाना है.
  • GDP किसी विशेष अवधि में वस्तु और सेवाओं के उत्पादन की कुल क़ीमत है अथार्त सकल घरेलू उत्पाद या जीडीपी या सकल घरेलू आय एक अर्थव्यवस्था के आर्थिक प्रदर्शन का एक बुनियादी माप है,

 what is the full of gdp

  • यह एक वर्ष में एक राष्ट्र की सीमा के भीतर सभी अंतिम माल और सेवाओ का बाजार मूल्य है।
  • महत्वपूर्ण बात ये है कि ये उत्पादन या सेवाएं देश के भीतर हुआ हो अथार्त GDP में केवल उसी उत्पादन को सम्मिलित किया जाएगा जो देश की घरेलू सीमा में हुआ हो, भले ही उस उत्पादन में एफडीआई की भूमिका रही हो। 
  • इसी प्रकार यदि भारत के संसाधन (जैसे सॉफ्टवेयर इंजीनियर) अन्य राष्ट्रो में(जैसे यूएसए) उत्पादन में योगदान करते हैं तो उनका योगदान भारत की जीडीपी में शामिल नहीं होगा। 
  • जैसे मान लिया कि 1 किलो गेंहू (कीमत 10 ) से 1 किलो आटा बना (कीमत 12 ) और फिर 1 किलो ब्रेड (कीमत 20) बनाया गया। इस दशा में जीडीपी 20 होगा। दूसरा विकल्प है। कि ब्रेड बनाने की पूरी प्रक्रिया में किये गए मूल्य संवर्धन को जोड़ 10+2+8=20 इसे सकल मूल्य संवर्धन या gross value addition (GVA) जो जीडीपी के बराबर है।

full form of gdp in economics 

  • जीडीपी की गणना भारत मे प्रत्येक तीसरे महीने या तिमाही आधार पर होती है.
  • भारत में कृषि, उद्योग और सर्विसेज़ यानी सेवा क्षेत्र तीन प्रमुख घटक हैं इनमे उत्पादन बढ़ने या घटने के औसत के आधार पर जीडीपी दर तय होती है.
  • ये आंकड़ा देश की आर्थिक तरक्की का संकेत देता है. अन्य शब्दों में, अगर GDP की दर बढ़ती है तो आर्थिक विकास दर भी बढ़ती है यदि जीडीपी पिछले तिमाही से कम है तो देश की आर्थिक विकास दर घटती है.

 GDP Full Form

  • भारत जीडीपी की विश्व रैंकिंग में सातवें स्थान पर विश्व बैंक की ओर से जीडीपी के आधार पर अगस्त 2019 में जारी वर्ष 2018 की रैंकिंग (GDP Ranking-2018) में भारत अपनी पिछली रैंकिंग से एक पायदान फिसल कर सातवें स्थान पर आ गया है।
  • वित्त वर्ष 2018 के लिए विश्व बैंक के आँकडों के अनुसार जीडीपी के मामले में भारत सातवें स्थान पर, जबकि भारत द्वारा विगत वर्षों में पीछे छोड़े गए ब्रिटेन व फ्रांस क्रमशः पाँचवें व छठे स्थान पर पहुँच गए हैं।
  • वित्त वर्ष 2018 में भारत की जीडीपी 2.7 ट्रिलियन डॉलर दर्ज की गई वहीं 20.5 ट्रिलियन डॉलर की जीडीपी के साथ अमेरिका वैश्विक अर्थव्यवस्थाओं में शीर्ष स्थान पर रहा।
  • आरबीआई की रेपो दर में कटौती की घोषणा के बाद "भारतीय बैंक' (एसबीआई) ने अपनी उधारी दरों में 15 आधार अंकों की कमी कर दी। एसबीआई द्वारा की गई यह कमी सभी अवधि के ऋण पर 10 अगस्त, 2019 से लागू हो गई।
  • आरबीआई की मौद्रिक नीति समिति ने जुलाई-सितम्बर 2019 के लिए मुद्रा स्फीति 3.1 प्रतिशत तथा अप्रैल-सितम्बर 2019 के लिए 3.5-3.7 प्रतिशत रहने का अनुमान व्यक्त किया।
Previous
Next Post »